FASTag kya hai

What is FASTag

क्या आप उत्सुक हैं? और जानना चाहते हैं FASTag क्या है, FASTag कैसे काम करता है, FASTag कैसे रिचार्ज करें कैसे एक्टिवटे करें तो आज हम इस आर्टिकल में इन्ही विषयों के बारे में बात करने वाले है आइए FASTag के बारे में और जानें।

What is Fastag

FASTag भारत सरकार द्वारा अक्टूबर 2017 में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा शुरू की गई एक रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी (RFID) है। यह निर्णय पर्सनल ड्राइवर्स और राष्ट्र दोनों के लिए बड़े पैमाने पर बहुत सी असुविधाओं को ध्यान में रख कर लिया गया था ।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के एक आर्टिकल के स्टैटिक के मुताबिक, भारत में टोल बूथों पर सालाना लगभग 12000 करोड़ का नुकसान होता है। इस तरह के नुकसान के दो प्राथमिक कारण हैं  ईंधन की बर्बादी और टोल प्लाजा पर मानव संसाधनों की कमी।

दोस्तों वैसे तो पूरी दुनिया में प्रदुषण बढ़ता ही  जा रहा है बहुत से देश हैं जो की प्रदूषण के मामले में सबसे ख़राब माने जाते हैं उनमे से एक भारत भी है पुरे भारत में 14 से अधिक शहरों का प्रदूषण स्तर काफी ज्यादा है जिनमे से देश की राजधानी दिल्ली भी है ,

इस मामले में टोल प्लाजा वायु प्रदूषण के वृद्धि के लिए प्राथमिक योगदान प्रदान करता है इस लिए भारत में FASTag को लागु करना इस प्रकार की काफी समस्याओं को हल करना है 

 FASTag कैसे काम करता है ?

FASTag को वाहन की Windscreen (सामने वाला सीसा) पर चिपका दिया जाता है और यह प्रीपेड खाते से जुड़ा होता है। टोल भुगतान RFID (Radio Frequency Identification) के माध्यम से किया जाता है, क्योंकि वाहन टोल गेट से होकर जाता है, जिसका मतलब है कि आपको अपनी यात्रा के दौरान टोल प्लाजा पर रुकने की आवश्यकता नहीं है। प्रीपेड FASTag खाते से लेनदेन के लिए डेबिट किया जाएगा जिससे भुगतान आसान हो जाएगा। उदाहरण के लिए, आप इलेक्ट्रॉनिक टोल भुगतान के लिए अपने किसी भी बैंक के बचत खाते या चालू खाते को FASTag से भी लिंक कर सकते हैं। इसके लिए, आपको पहले अपने वाहन के लिए एक FASTag प्रोफ़ाइल बनाना पड़ेगा , जिसके लिए आप अपने बैंक (जिसमे आपका खाता है ) के FASTag पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और डेबिट/क्रेडिट कार्ड या नेटबैंकिंग का उपयोग करके रिचार्ज विकल्प के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं।

जब आप अपनी गाड़ी पर FASTag लगवा लेते हैं तो आपको किसी भी टोल प्लाजा पर गाड़ी रोकने की आवश्यकता नहीं है जब भी आप किसी टोल प्लाजा में प्रवेश करेंगे तो वहां का गेट fastag के द्वारा आटोमेटिक खुल जायेगा और आपके खाते से RFID के द्वारा टोल कट जायेगा 

FASTag कैसे बनाये?

FASTag के लिए अप्लाई करने के लिए बहुत से तरीके हैं जिनमे से कुछ तरीके निम्नलिखित हैं जिनके द्वारा आप FASTag के लिए बहुत ही आसानी से आवेदन कर सकते हैं –

1 .Online पेमेंट ऐप्प के द्वारा 

पेटीएम पेमेंट्स बैंक जैसे किसी भी Online पेमेंट ऐप्प पर अपने FASTag के लिए आवेदन कर सकते हैं 

आप किसी भी एप्प (जैसे की PAYTM ) में जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं वहां पर आपको KYC के लिए कुछ डाक्यूमेंट्स जैसे की – Registration Certificate (RC), PAN Card, Driver’s License आदि अपलोड करने होंगे 

उसके बाद आपको FASTag की पेमेंट करनी होगी इतना करने के बाद आपका FASTag कुछ ही दिनों में आपके पंजीकृत पते पर पहुंचा दिया जाएगा

2. बैंकों के माध्यम से FASTag अप्लाई करना 

FASTag सुविधा प्रदान करने वाले किसी भी बैंक में जाएँ और FASTag आवेदन पत्र भरें

अनुरोध के अनुसार संबंधित अधिकारी को फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज जमा करें

अपने FASTag का पेमेंट करें

आपका FASTag कुछ ही दिनों में आपके पंजीकृत पते पर पहुंचा दिया जाएगा

3 .टोल बूथ के माध्यम से

विभिन्न टोल प्लाजा पर स्थित किसी भी POS (प्वाइंट ऑफ सेल) टर्मिनल पर जाएं

जब आप अपने FASTag आवेदन के सत्यापन के लिए किसी पीओएस पर जाते हैं तो सभी आवश्यक दस्तावेज और उनकी फोटो कॉपी  ले जाना याद रखें

FASTag देने वाली एजेंसी तब आपके आवेदन को स्वीकार करने से पहले आपके सभी दस्तावेजों को बारीकी से वेरीफाई करेगी

FASTag के लिए आपके वाहन के रजिस्ट्रेशन के बाद, संबंधित एजेंसी का एक प्रतिनिधि आपके वाहन की windscreen पर FASTag को लगाएगा और उसको एक्टिवेट करेगा। 

FASTag अप्लाई करने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स 

फास्टैग के लिए आवेदन करने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स निम्नलिखित हैं –

Registration Certificate (RC) 

PAN Card 

Driver’s License

Voter’s ID Card या Aadhaar Card

FASTag Recharge कैसे करें 

अपने बैंक के माध्यम से FASTag रिचार्ज करना: लगभग 23 बैंक आपको FASTag के लिए आवेदन करने और रिचार्ज करने की अनुमति देते हैं। आपके बैंक की वेबसाइट पर एक FASTag आइकन होगा जिससे आप आवेदन कर सकते हैं और रिचार्ज कर सकते हैं। यह विकल्प सभी बैंकिंग ऐप जैसे कि आपके HDFC PayZapp, SBI YONO app आदि पर भी उपलब्ध है।

आप सभी को यह ध्यान जरूर रखना चाहिए की सभी बैंक फास्टैग रिचार्ज के लिए एक सर्विस चार्ज लेते हैं। 

Google Pay से FASTag रिचार्ज करना: सबसे पहले आपको Google Pay ऐप पर जाकर अपने बैंक को अपने FASTag अकाउंट से लिंक करना होगा, New Payment पर टैप करना होगा और फिर बिल पेमेंट्स पर सेलेक्ट करना होगा जहां FASTag को लिस्ट किया जाएगा। FASTag पर क्लिक करें और फिर अपने FASTag बैंक को सेलेक्ट करें। आपके FASTag स्टिकर के बाईं ओर बैंक का नाम होगा।

एक बार जब वह पेज खुल जाता है, तो गेट स्टार्ट पर क्लिक करें और FASTag अकाउंट और अकाउंट नंबर से जुड़ा अपना वाहन नंबर दर्ज करके अपने बैंक खाते को लिंक करें। एक बार लिंक होने के बाद, आप अपने खाते को रिचार्ज करने के लिए कभी भी Google pay का उपयोग कर कर सकते हैं।

PhonePe से FASTag रिचार्ज करना: सबसे पहले PhonePe ऐप खोलें, ‘recharge and bill payment’ ऑप्शन पर जाएँ और ‘FASTag रिचार्ज’ आइकन पर क्लिक करें। फिर अपने FASTag के जारीकर्ता बैंक का चयन करें। आपके FASTag स्टिकर के बाईं ओर बैंक का नाम होगा।

एक बार जब आप जारीकर्ता बैंक पर क्लिक करते हैं, तो अपना वाहन नंबर या FASTag खाते से जुड़ा वॉलेट आईडी नंबर दर्ज करें, फिर वह राशि दर्ज करें जिसे आप रिचार्ज करना चाहते हैं और भुगतान के लिए आगे बढ़ें।

Paytm से FASTag रिचार्ज करना : यदि आपने FASTag को अपने पेटीएम मोबाइल एप्लिकेशन से लिंक किया है तो आपको अपने FASTag को रिचार्ज करने की आवश्यकता नहीं है। पेटीएम फास्टैग रिचार्ज के लिए, आपको बस अपने पेटीएम वॉलेट में पैसे रखने होंगे और जैसे ही आप टोल गेट से गुजरते हैं, टोल राशि सीधे आपके वॉलेट से काट ली जाएगी।

FASTag Activate कैसे करें 

वैसे तो फास्टैग को एक्टिवेट करने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन कई तरीके हैं यहाँ हमने दो तरीकों के बारे में बात की है निम्नलिखित हैं –

1.FASTag एप्प द्वारा 

अपने मोबाइल फ़ोन पर My FASTag एप्लिकेशन डाउनलोड करें

ऐप के होमपेज पर ‘NHAI FASTag Activate’ ऑप्शन को सेलेक्ट करें

उस साइट को सेलेक्ट करें जहां से आपने FASTag खरीदा है

यहां, आप या तो FASTag पर QR कोड को स्कैन कर सकते हैं या टैग के नीचे 24-नंबर की FASTag आईडी को भर सकते हैं, और आपका FASTag तुरंत एक्टिवट हो जाता है। 

2.Paytm एप्प द्वारा 

POS टर्मिनल या ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म से अपना FASTag खरीदने के बाद, आपके पास अपने FASTag को खुद एक्टिवेट करने का विकल्प होता है। आप बस अपने FASTag को अपने वाहन की विंडस्क्रीन पर चिपका सकते हैं और इसे अपने पेटीएम ऐप से लिंक कर सकते हैं। आपका FASTag अपने आप एक्टिवेट हो जाएगा।

Conclusion

FASTag के द्वारा आपको टोल प्लाजा पर रुकने की जरुरत नहीं पड़ती जिससे आपका बहुत समय बचता है और आपको टोल टैक्स देने के लिए नगद रखने की आवश्यकता भी नहीं पड़ती FASTag के द्वारा टोल देने पर आपको टोल रेट नकद के तुलना में काम देना पड़ता है 

हमे उम्मीद है की यहाँ फास्टैग से जुड़े हुए आपके सभी सवालों का जवाब मिल गया होगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.